सचिन तेंदुलकर (क्रिकेट)

टीम इंडिया क्रिकेट टीम के पास अपने कई शानदार रिकॉर्ड्स हैं जिन्हे तोड़ना बिल्कुल भी आसान नहीं होगा। कुछ खिलाड़ियों के कई ऐसे वर्ल्ड रिकॉर्ड आज भी दर्ज है, जिसे तोड़ना तो दूर आज तक कोई उसकी बराबरी भी नहीं कर पाया है। इसमें शामिल है, सचिन तेंदुलकर के 100 शतक का रिकॉर्ड हो, युवराज सिंह के एक ओवर में छह छक्के लगाने का रिकॉर्ड या डॉन ब्रैडमैन का 99.94 का औसत। इसी तरह कुछ और भी रिकॉर्ड्स हैं जो जल्दी टूटने वाले नहीं हैं।

एक पारी में लिए सबसे ज्यादा विकेट

टेस्ट क्रिकेट में एक रिकॉर्ड इंग्लैंड के जिम लेकर ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाया था। साल 1956 के टेस्ट मैच की एक पारी में उन्होंने 10 विकेट हासिल किए। उनका ये रिकॉर्ड आज तक टूट नहीं पाया है। यह रिकॉर्ड कोई नहीं तोड़ पाया है, क्योंकि किसी विरोधी टीम के सिर्फ 10 बल्लेबाज ही आउट हो सकते हैं।

टेस्ट क्रिकेट की 4 परियों में लगाया शतक

टीम इंडिया के खिलाड़ी सुनील गावस्कर ने इंडियन क्रिकेट टीम के लिए शानदार बल्लेबाजी की है। टेस्ट मैच की चारों पारियों में शतक लगाने का काम किया है। सुनील गवास्कर के इस रिकॉर्ड को आज तक कोई तोड़ नहीं पाया है। आंकड़ों को देखें तो ये रिकॉर्ड आसानी से टूट सकते हैं। सुनील गवास्कर ने पहली पारी में 205, दूसरी पारी में 236, तीसरी पारी में 220 और चौथी पारी में 221 रन बनाए।

1 गेंद पर बनाए 6 से भी ज्यादा रन

टीम ऑस्ट्रेलिया और विक्टोरिया के बीच क्रिकेट मैच में एक बल्लेबाज ने 6 से ज्यादा रन बनाए हैं। वैसे देखा जाए तो 1 गेंद में 6 रन ही बनाए जा सकते हैं, लेकिन इस मैच के दौरान बल्लेबाजों ने दौड़कर 246 रन बना लिए। इस मैच में गेंद पेड़ पर जाकर फंस गई थी। क्रिकेट मैच के दौरान गेंद वापस न मिल सकी तब तक खिलाड़ियों ने दौड़ कर 246 रन बना लिए थे। हालांकि बाद में आईसीसी ने नियमों में बदलाव करते हुए इस तरह की परिस्थितियों में डेड बॉल घोषित करने का नियम बना दिया है।